• ठेकेदार निलय जैन की 20 करोड़ की अघोषित आय का पता चला
  • छापे में 70 लाख रु. की ज्वेलरी भी बरामद, आज भी जारी है कार्रवाई 
Loading...

भोपाल. आयकर विभाग ने रोड कांट्रेक्टर निलय जैन के तीन ठिकानों मंगलवार को छापा मारा। जो दूसरे दिन यानी बुधवार को भी जारी है।पहले दिन 1.70 करोड़ रुपए कैश और करीब 70 लाख रुपए कीमत की ज्वेलरी की बरामदगी देख सब हैरत में पड़ गए। सुबह छह बजे कार्रवाई शुरू होने के एक घंटे बाद ही विभाग को घर से 1 करोड़ रुपए की नकदी मिल गई। जगह-जगह छिपाकर रखे गए कैश को गिनने के लिए आयकर विभाग को कई नोट मशीन की मदद लेनी पड़ी। विभाग को जैन के पांच लॉकर की भी जानकारी मिली है।

टीम ने जैन के टीटी नगर स्थित बैंक ऑफ इंडिया का लॉकर खोला। वह भी नोटों से ठसाठस भरा हुआ था। यहां 70 लाख रुपए बरामद हुए। नोट गिनने में लग रहे समय के बाद विभाग ने बाकी चार लॉकर खोलने का काम बुधवार के लिए टाल दिया। जैन रोड बनाने के साथ-साथ स्टोन क्रेशिंग की मशीन चलाते हैं। इनका शहर के नामचीन बिल्डर अजय शर्मा के साथ जमीन का संयुक्त कारोबार है।

इसके चलते विभाग की टीम ने अजय शर्मा के एमपी नगर जोन-2 स्थित ऑफिस में भी सर्वे किया। जैन के यहां मिले दस्तावेजों में बड़े पैमाने पर कैश में लेनदेन के प्रमाण मिले हैं। कई जमीन की खरीद भी नकदी में की गई। अनुमान है कि इसके जरिए जैन ने करीब 20 करोड़ रुपए की आय छुपाई। सूत्रों की माने तो पहले दिन जब्त कैश के आधार पर यह आयकर विभाग की एक सबसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है। 4 लॉकर खुलने के बाद जब्त नकदी और ज्वैलरी का अनुपात और बढ़ सकता है।

केवल तीन ठिकानों पर कार्रवाई :अहम बात यह है कि यह कार्रवाई केवल तीन ठिकानों पर ही की गई। अरेरा कॉलोनी स्थित आवास पर छापा मारने पहुंची विभाग की टीम बेहद आलीशान बंगले को देखकर देखकर टीम हैरत में पड़ गई। इसके इंटीरियर पर करोड़ों रुपए खर्च किए गए हैं। जैन मप्र सरकार के प्रोजेक्ट में काम करने वाले अग्रणी ठेकेदार माने जाते हैं। वे कई अहम प्रोजेक्ट पर काम कर चुके हैं। पूर्व मुख्यमंत्री के गांव तक की सड़क का ठेका इन्हें ही मिला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here