Loading...
Loading...

मिर्जापुर से तौसिफ अहमद की रिपोर्ट

मीरजापुर व वाराणसी के घाट पर गंगा में आज भी तेज बढ़ाव दर्ज किया जा रहा है। जिसमे गाजीपुर बलिया में गंगा खतरे के निशान को पार कर चुकी है।तटवर्ती इलाकों में हाहाकार की स्थिति बन गई है।

वाराणसी में आज सुबह 8 बजे गंगा का जलस्तर 70.16 मीटर दर्ज किया गया। बीते 4 दिन से गंगा के बढ़ाव का लगभग यही हाल है।अगले 24 घण्टे में गंगा और ऊपर जा सकती है। गंगा के पलट प्रवाह से वरुणा भी उफान मार नए इलाकों में घुसी। लोग पलायित होने को मजबूर।

केंद्रीय जल आयोग के अनुसार गंगा का जलस्तर 70.26मीटर पर चेतावनी बिंदु दर्ज हैl जबकि 71.26 मीटर पर खतरे का निशान है। गंगा के पानी ने 9 सितम्बर 1978 को उच्चतम स्तर 73.90 मीटर को छुआ था।तब पूरे पूर्वान्चल में बाढ़ ने कहर ढा दिया था।

इस बार भी लोग तेज बढ़ाव से भयभीत हो रहे है । जनपद मिर्जापुर में भी लगातार बढ़ रहा है गंगा का जलस्तर इसके बावजूद जिला प्रशासन की तरफ से कोई भी संभव सुरक्षा व्यवस्था दृष्टिकोण से और ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे हैं और गंगा में छोटे-छोटे बच्चे गंगा में छलांग लगाकर स्टंट दिखाते हुए दिखाई दे रहे हैं अगर इसी बहाव में कोई भी घटना होती है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा ।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here