कांग्रेस में शामिल होने के बाद पहली बार दरभंगा पहुचे कीर्ति आजाद को पार्टी कार्यकर्ताओं ने जमकर स्वागत किया. कीर्ती आजाज के स्वागत के लिए कई कार्यकर्ता मंच पर चढ़ गए जिससे मंच टूट गया. 

पटनाः बीजेपी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए कीर्ति आजाद ने दरभंगा पहुंचते ही विवादित बयान दिया है. कई कांग्रेसी नेताओं का नाम लेते हुए उन्होंने कहा कि पहले बूथ लूट होती थी और 1999 के लोकसभा चुनाव में उनके लिए भी लोगों ने बूथ लूटा. इस दौरान उन्होंने कहा कि उनके पिता जी के समय भी बूथ लूटा जाता था.

मंच से भीड़ को संबोधित करते हुए कीर्ति आजाद ने कहा, ”पहले बूथ लूट होती थी. मेरे लिए भी साल 1999 के लोकसभा चुनाव में लोगों ने बूथ लूटा. मेरे पिता जी समय भी बूथ लूटने की घटना होती थी.”

इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं जन्मजात कांग्रेसी हूं. कीर्ति आजाद ने कहा, ”हमारी यह घर वापसी है क्योंकि हम जन्म से कांग्रेसी हैं. बीजेपी सबसे बड़ी साम्प्रदायिक पार्टी है.”

कांग्रेस में शामिल होने के बाद पहली बार दरभंगा पहुचे कीर्ति आजाद को पार्टी कार्यकर्ताओं ने जमकर स्वागत किया. कीर्ती आजाज के स्वागत के लिए कई कार्यकर्ता मंच पर चढ़ गए जिससे मंच टूट गया. इस मंच पर मौजूद कई नेता नीचे गिर गएं. इस दौरान उन्हें हल्की चोटें आईं.

मंच से गिरने की बात पर उन्होंने कहा कि पहले ही इतना चोट खा चुका हूं कि अब क्या चोट लगेगी. मंच पर कीर्ति आजाद के साथ बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा भी साथ थे.