Loading...
Loading...

सासाराम- बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय भले ही अपराध को नियंत्रण करने के लिए पुलिस प्रशासन को दिशा-निर्देश दे रहे हो, लेकिन रोहतास जिले में बच्चियों के साथ अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहा है। इसी क्रम में दिनारा थाना के घोड़बछ गांव के आंगनबाड़ी केंद्र में ले जाकर कुछ युवकों द्वारा एक महादलित बच्ची के साथ दुष्कर्म किया गया। इस संबंध में पीड़िता ने थाने में केस भी दर्ज किया है।

बताया जाता है कि 4 जून को ही गांव के ही मनचले ने जबरन 14 वर्षीय बच्ची को उठा लिया तथा उसी गांव के ही आंगनवाड़ी केंद्र में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि युवती को दो दिनों तक आंगनबाड़ी केंद्र में रखकर ही दुष्कर्म किया जाता रहा। आरोपी युवक की मां आंगनबाड़ी केंद्र चलाती है। छह जून को जब लड़की को मुक्त कर दिया गया, तो लड़की जब घर लौटी और परिजनों को आपबीती सुनाई तो महादलित परिवार थाने में शिकायत लेकर गया, लेकिन उसका केस नहीं लिया गया। जब बात मीडिया में आई तो दबाव में आकर पुलिस ने उक्त मामले में एफआईआर किया तथा लड़की को मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल भेजा। चूकिं प्रशासन अभी कुछ भी कहने से बच रही है।

वहीं पीड़ित लड़की की मानसिक स्थिति काफी खराब है। वह कुछ भी कहने के स्थिति में नहीं है। पीड़ित के परिजनों पर केस नहीं करने का दबाव बनाया जा रहा है। डर के मारे पीड़िता के पिता तथा अन्य पुरुष सदस्य गांव छोड़कर भाग खड़े हुए हैं। पीड़िता की बहन ने बताया कि वह लोग काफी डरे हुए हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here